कर्नाटक में शादी वाले दिन मंडप से भागा दूल्हा, इस आयोजन में शामिल होने आए एक लड़के ने भरी दुल्हन की मांग

जो किस्मत में लिखा होता है, वो हर हाल में होकर रहता है। अगर इस बात पर आप यकीन नहीं करते तो सिंधु की शादी के बारे में जानकर करने लगेंगे। कर्नाटक के चिक्कमगलुरु जिले के तारिकेरे तालुक गांव में दो भाईयों की शादी तय हुई थी। इनके नाम अशोक और नवीन हैं। नवीन ने अपनी होने वाली पत्नी सिंधु के साथ शादी से एक दिन पहले होने वाली सारी रस्में अदा की। वह विवाह समारोह में आए मेहमानों से भी मिला। लेकिन शादी की रस्में शुरू होने से पहले ही वह मंडप से चला गया।

बाद में पता चला कि नवीन की गर्लफ्रेंड ने उसे विवाह समारोह में ही जहर खाकर जान देने की धमकी दी थी। ये सुनकर नवीन घबरा गया और बिना कुछ सोचे-समझे सिंधु को छोड़कर गर्लफ्रेंड से मिलने चला गया। शादी में शामिल होने आए लोग ये देखकर हैरान रह गए। सिंधु के दुख का उस वक्त ठिकाना नहीं रहा जब उसे पता चला कि नवीन उसे छोड़कर चला गया है। वह मंडप में ही रोने लगी।

उसी मंडप में अशोक की शादी हुई। सिंधु और उसका परिवार बहुत परेशान थ। सिंधु को रोता हुआ देखकर उसके परिवार वालों ने तय किया कि वे इसी मंडप में उसकी शादी करेंगे। तब इस आयोजन में शामिल होने आए मेहमान बीएमटीसी कंडक्टर चंद्रप्पा से सिंधु की शादी हुई। सिंधु ने कभी सोचा भी नहीं होगा कि नवीन के बजाय उसकी शादी चंद्रप्पा से होगी।