गाजियाबाद । गाजियाबाद के इंदिरापुरम थाना पुलिस ने बच्चों से मोबाइल चोरी कराने वाले गैंग का खुलासा करते हुए एक बाल आरोपी सहित 5 बदमाशों को पकड़ा है। आरोपियों के पास से नौ मोबाइल फोन, 4 चाकू और 1 ऑटो बरामद किया है। बच्चे को बाल सुधार गृह भेज दिया है। पुलिस ने आरोपियों को अभयखंड स्थित शनि मंदिर के पास से रात के समय ऑटो में पकड़ा है। मूलरूप से सहरसा बिहार का रहने वाला ऑटो चालक देवेंद्र कुमार अपने भाई प्रवीन कुमार के साथ मिलकर दिल्ली-एनसीआर में भीड़भाड़ वाली जगहों पर बच्चों से मोबाइल चोरी का काम करवाता था। आरोपी बच्चों को एक मोबाइल चोरी करने पर पांच सौ रुपये देता था। पुलिस से पूछताछ में आरोपी देवेंद्र ने बताया कि लक्ष्मीनगर दिल्ली से बच्चों को अपने साथ एनसीआर के क्षेत्रों में लेकर जाता था। आरोपी भीड़भाड़ वाले स्थानों पर भी पहुंचते थे। वहीं बच्चे मोबाइल चोरी करने के बाद तुरंत किसी आरोपी को दे देता था। जो उसे लेकर निकल जाते थे। पकड़े जाने पर आरोपी बच्चे को माफ करने की बात कह बीच बचाव करते थे। इसके अलावा ऑटो में बैठी सवारी का ध्यान बांटकर मोबाइल चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया जाता था। साथ ही मौका देखकर आरोपी ऑटो में बैठे लोगों का पर्स भी चोरी कर लेते थे। इस दौरान विरोध करने पर सुनसान जगहों पर चाकू के बल पर डराकर लूट की घटना को अंजाम देकर भाग जाते थे। पुलिस ने कहा कि आरोपी बिहार और झारखंड से बच्चों को रुपये कमाने की बात कहकर साथ लाते थे। इस बारे में बच्चों के घरवालों को भी कुछ नहीं बताते थे। घरवाले समझते थे कि उनका बच्चा यहां कमाने आया है। पुलिस के अनुसार, देवेंद्र, प्रवीन, विक्की महतो, चुन्नू खां और एक बाल आरोपी को पकड़ा गया है। आरोपियों के अन्य साथियों की तलाश की जा रही है। बच्चे को बाल सुधार गृह में भेजा दिया है।