छपरा। असम से एक प्रेमिका अपने प्रेमी पति की खोज में बिहार के छपरा जिले में उसके पैतृक गांव सेमरहिया पहुंच गई। इस दौरान उक्त प्रेमिका के साथ मढ़ौरा की पुलिस अधिकारी हेमलता कुमारी भी थीं। करीब 21 वर्षीया प्रेमिका अंजली  ने बताया कि उसका परिवार और प्रेमी सेमरहिया निवासी बब्लू असम में ही काफी समय से रहता है। इसी बीच दोनों को एक दूसरे से प्यार हो गया और 2018 में वही मंदिर में शादी कर ली। इसके बाद कोर्ट से इसका कागज भी बनवा लिया। प्रेमिका अंजली के अनुसार, शादी के एक साल बाद बब्लू असम से वापस छपरा स्थित अपने घर आ गया। आने से पहले उसने अपनी पत्नी से कहा था कि परिजनों से मिलकर आने के बाद अंजली को भी वापस घर ले जाएगा। लेकिन उसके बाद वह आज तक असम नहीं गया।
  अंजली के अनुसार, बब्लू दो माह पहले तक उससे मोबाइल पर बात करता था। पर अब मोबाइल भी बन्द कर दिया था। इसके चलते अंजली को संदेह हुआ तो उसने पता लगाना शुरू किया तो उसे पता चला कि बब्लू के परिजन गांव में उसकी दूसरी शादी करने वाले हैं। इसके बाद वह आनन- फानन में अपने घर वालों को साथ लेकर पहले मढ़ौरा थाना पहुंची। और यहां थानाध्यक्ष प्रशिक्षु डीएसपी राजीव कुमार से सारी आपबीती सुनाई। इसके बाद प्रशिक्षु डीएसपी ने उस लड़की को महिला पुलिस अधिकारी हेमलता कुमारी के साथ उक्त लड़के के घर उसे रखवाने के लिए भेजा। यहां पहुंचने पर लड़के की मां ने पहले वाली शादी की बात से अनभिज्ञता जाहिर करते हुए अंजली को घर मे रखने से इंकार कर दिया। जबकि प्रेमी बब्लू घर से फरार हो गया। इसके बाद भी प्रेमी के घर पर पुलिस के साथ उक्त प्रेमिका अंजली जमी रही और घर में रहने की जिद पर कायम रही। इधर पुलिस की पहल पर गांव के मुखिया और अन्य गणमान्य लोगों ने प्रेमी बब्लू के घर बुलाया। फिर, मुखिया के प्रयास से अंजली को घर में एंट्री हो गई।