छपरा । छपरा जिले के सोनपुर प्रखंड में एक खेत के पास से एक युवक की लाश ‎मिली है। इस सूचना के बाद पु‎लिस मौके पर पहुंची और घटनास्थल का मुआयना ‎किया। मृतक की पहचान पच्चीस वर्ष के अमोद कुमार के रूप में हुई। वह भरपुरा थाना क्षेत्र के रहने वाले राजेंद्र भगत का बेटा था। इस वारदात की सूचना मिलते ही सोनपुर थाने के अध्यक्ष अकील अहमद और एडिशनल एसपी अंजनी कुमार अपने दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए। इसके बाद उन्होंने लाश को अपने कब्जे में ‎लिया और छानबीन शुरू कर दी। लोगों ने बताया कि अमोद कुमार को मारकर यहां फेंक दिया गया है। घटनास्थल के नजदीक से एक मोटरसाइकिल मिली है। वहीं पर एक बड़ा पत्थर भी मिला है, जिसपर खून के धब्बे लगे थे। मृतक के प‎रिजनों ने बताया ‎कि गुरुवार की शाम 7:00 बजे किसी व्यक्ति ने उसे फोन करके अमोद को घर से बुलाया था। इस फोन कॉल के बाद अमोद मोटरसाइकिल से चला गया। घरवालों ने उसके दोस्तों से भी पूछताछ की, पर किसी से कोई जानकारी नहीं मिल पाई। इसके बाद शुक्रवार की अहले सुबह ग्रामीण महिलाएं जब शौच के लिए गईं, तो एक युवक को मोटरसाइकिल सहित मृत अवस्था में देखा। तब उन्होंने गांववालों को यह जानाकरी दी। इसके बाद जब लोग घटनास्थल पर पहुंचे तो उसकी पहचान गांव के अमोद कुमार के रूप में हुई। 
बताया जा रहा है ‎कि अमोद के दो बड़े भाई हैं। दो वर्ष पहले ही अमोद की शादी बैशली जिला के लालगंज थाना के बसंता में हुई थी। मारे गए शख्स की पत्नी का नाम पूजा देवी है। अमोद की रसोई गैस चूल्हा के पार्ट-पुर्जे की दुकान चलाता था। घटना के संबंध में थानाध्यक्ष अकील अहमद ने बताया कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही युवक की मौत का खुलासा हो सकेगा। उन्होंने कहा कि जल्द ही अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इस वारदात से आक्रोशित ग्रामीणों ने अपराधियों को जल्द से जल्द पकड़ने की मांग करते हुए लाश को नहीं ले जाने और सड़क मार्ग को जाम करने की बात कहने लगे। इस पर थानाध्यक्ष ने अकील अहमद ने आक्रोशित ग्रामीणों को समझा बुझाकर हत्यारे को जल्द पकड़ने का आश्वासन दिया। ‎फिलहाल पु‎लिस मामले की जांच कर रही है।