पालघर. चेन्नई से 30 जनवरी को अपहृत नौसेना के 26 साल के नाविक को अपहरणकर्ताओं ने महाराष्ट्र के पालघर जिले जिंदा जला दिया था और बाद में उनकी मौत हो गई. जिला पुलिस ने शनिवार को बताया कि नाविक सूरज कुमार दूबे की शुक्रवार को मुंबई के अस्पताल में शिफ्ट करने के दौरान मौत हो गई.

पालघर पुलिस के प्रवक्ता सचिन नवाडकर ने बताया कि दूबे रांची के रहने वाले थे और कोयंबटूर में आईएनएस अग्रणी पर तैनात थे. प्रारंभिक जांच के अनुसार, दूबे 30 जनवरी को छुट्टी से लौट रहे थे, तभी चेन्नई हवाईअड्डे के बाहर रात करीब नौ बजे तीन लोगों ने बंदूक का भय दिखाकर उनका अपहरण कर लिया और 10 लाख रुपये की फिरौती मांगी.

वहीं, पुलिस की जांच में यह पता चला कि दूबे ने शेयर बाजार में निवेश करने के लिए बैंक से 8 लाख रुपया और अपने करीबियों व रिश्तेदारों से करीब 15 लाख रुपये उधार लिए थे. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक पालघर पुलिस को जांच में दूबे के दो मोबाइल फोन के अलावा एक तीसरा फोन भी मिला है, जिसका इस्तेमाल वह आमतौर पर दो स्टॉक ब्रोकिंग फर्म के जरिए लेनदेन के लिए करते थे. दूबे के परिवार ने यह दावा किया है कि उन्हें इस फोन के बारे में कोई जानकारी नहीं है. दूबे ने 5.45 लाख रुपये अपने एक सहकर्मी से, जबकि 9 लाख रुपये अपने एक रिश्तेदार से उधार लिए थे, लेकिन पुलिस को दुबे के दो बचत खातों में सिर्फ 392 रुपये ही मिले.
जानकारी के मुताबिक, दूबे को चेन्नई में तीन दिन बंधक बनाकर रखा गया, बाद में उन्हें महाराष्ट्र के पालघर जिले के तलासरी इलाके के वेवजी ले जाया गया. यह जगह मुंबई के नजदीक और चेन्नई से 1,400 किलोमीटर दूर है. पुलिस ने बताया कि शुक्रवार की सुबह अपहरणकर्ताओं ने दूबे के हाथ पैर बांधे और घोलवाड़ के निकट जंगलों में उन्हें जिंदा जलाकर मरने के लिए छोड़ कर फरार हो गए.

दूबे को स्थानीय लोगों ने दहानु प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया. पुलिस ने बताया कि उनका शरीर 90 प्रतिशत तक जल चुका था, उन्हें मुंबई स्थित नौसेना अस्पताल ले जाया जा रहा था, लेकिन रास्ते में उनकी मौत हो गई. अधिकारी ने बताया कि दूबे ने मृत्यु पूर्व अपने बयान में पूरी कहानी बताई.

नौसेना के प्रवक्ता ने बताया कि अपहरण की घटना के वक्त दूबे अवकाश पर थे और शुक्रवार को पालघर में 90 प्रतिशत जली हुई अवस्था में मिले. उन्हें नौसेना के अस्पताल आईएनएचएस अश्विनी लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या सहित अन्य आरोपों में मामला दर्ज कर पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है.