बगहा. बिहार (Bihar) में सुरक्षा (Security) को लेकर रेल यात्रियों को जागरूक करने के लिए राजकीय रेल पुलिस (GRP) विशेष अभियान चलाएगी. अपर पुलिस महानिदेशक (रेल) निर्मल कुमार आजाद ने रविवार को बताया कि राजकीय रेल पुलिस के लिए रेल यात्रियों की सुरक्षा सर्वोपरि है. इसमें किसी भी कीमत पर कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने कहा कि नेपाल की खुली अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे राज्य के मुजफ्फरपुर-वाल्मीकि नगर रोड रेलखंड का उन्होंने जायजा लिया है और रेल यात्रियों की सुरक्षा के साथ-साथ रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के साथ बेहतर समन्वय बनाए रखने के लिए जीआरपी को कड़े निर्देश दिए हैं.

आजाद ने बताया कि शराबबंदी कानून का कड़ाई से पालन करने के लिए रेलगाड़ियों के अंदर शराब की आवाजाही रोकने और शराब का सेवन करने वाले रेल यात्रियों को चिन्हित कर उनकी गिरफ्तारी सुनिश्चित करने के लिए पूरे राज्य में राजकीय रेल पुलिस ने उड़नदस्ता टीमों का गठन किया है. राज्य के सभी राजकीय रेल थानों में लंबित पड़े कांडों के त्वरित निष्पादन के लिए भी आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किया गया है.
अपर पुलिस महानिदेशक ने बताया कि रेल यात्रियों के साथ नशा खुरानी, सामानों की चोरी और अन्य अपराधिक कांडों को अंजाम देने वाले गिरोह और उनके सदस्यों की एक लंबी सूची बनाई गई है. उन्होंने बताया कि फरार अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए जिला पुलिस और आरपीएफ के साथ बेहतर समन्वय बनाकर विशेष अभियान छेड़ा जाएगा. आजाद ने राज्य से गुजरने वाली ट्रेनों के यात्रियों से सुरक्षा को लेकर राजकीय रेल पुलिस द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों के अनुरूप सफर में विशेष सतर्कता बरतने की अपील भी की है.