यूपी पंचायत चुनाव: मतदान केंद्र और बूथ का हो रहा है सत्यापन, कैसे होगी वोटिंग चुनाव आयोग ने शुरू की तैयारी

गांव-गांव वोट पर चोट करने की तैयारियाां जोरों पर हैं। प्रशासन की तैयारियां पूरी हो रही हैं वहीं आयोग से अधिसूचना का इंतजार है। प्रशासन ने तो यह भी व्यवस्था कर ली है कि कहां-कहां और कितने केंद्र व बूथ पर वोट डाले जायेंगे। यह रिपोर्ट के आधार पर केंद्र तय किये जा चुके हैं। जहां प्रधानी से लेकर वार्ड मेम्बर से लेकर जिला पंचायत सदस्य तक का मतदान कराया जायेगा।

बदायूं जिले की पांच तहसीलों के 1,037 ग्राम पंचायतों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का मतदान कराया जायेगा। अभी निर्वाचन आयोग ने भले ही अधिसूचना जारी नहीं की है लेकिन जिला निर्वाचन विभागा और प्रशासन ने मतदान कराने की सभी तैयारियां कर ली हैं। इसमें गांव-गांव एसडीएम, बीडीओ सहित अफसरों से मतदान केंद्र भी तय करा लिये हैं। इसमें जिले भर से मतदेय स्थल 1,443 तय किये गये हैं वहीं मतदान बूथ 3,150 तय किये गये हैं। जहां ग्रामीणों द्वारा मतदान कराया जायेगा। प्रशासन ने मतदेय स्थल और बूथ तय करने के बाद अब रिपोर्ट शासन को भेज दी है। इससे साफ है कि तय हो गया है कि इन्हीं केंद्रों और बूथों पर मतदान किया जायेगा।

एसडीएम और बीडीओ की रिपोर्ट पर केंद्र तय
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को निर्वाचन विभाग पहले ही एसडीएम और बीडीओ से सत्यापन करा चुका है। जिसमें मतदेय स्थल और मतदान केंद्रों को तय कर लिया है। इसके लिये एसडीएम और बीडीओ ने गहनता से अध्ययन करने के बाद रिपोर्ट दी है। जिसके अनुसार बूथ और मतदेय स्थल तय किये गये हैं। पंचायत चुनाव को रफ्तार से तैयारियां चल रही हैं।बिल्डिंग की रिपोर्ट भी मांगी
जिले में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होने वाले हैं। इसके लिये बूथों और मतेदय स्थलों का सत्यापन हो गया है। इसकी रिपोर्ट जाते ही निर्वाचन आयोग व जिला निर्वाचन विभाग ने मतदान केंद्रों पर बिल्डिंग की रिपोर्ट मांगी है। जिसमें एसडीएम और बीडीओ से रिपोर्ट मांगी गई है कि जिन-जिन केंद्रों को बनाया है वहां-वहां बिल्डिंग की क्या स्थिति है। शौचालय और पानी पीने की क्या व्यवस्था है यह भी रिपोर्ट मांगी है।बदायूं के सहायक चुनाव अधिकारी डॉ. पीएस पटेल ने बताया कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को तैयारियां पूरी हैं, अधिसूचना का इंतजार किया जा रहा है। मतदेय स्थल और मतदान केंद्र तय कर लिये गये हैं, 3150 बूथों पर मतदान कराया जायेगा।