पंजाब में पहली फरवरी से आंगनवाड़ी केंद्र खोलने की तैयारी
 पंजाब की सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री अरुणा चौधरी ने राज्य में एक फरवरी से आंगनवाड़ी केन्द्रों को फिर से खोलने का फ़ैसला लिया है।

श्रीमती चौधरी ने आज यहां बताया कि आंगनवाडी केन्द्रों को कोरोना फैलने के कारण बंद कर दिया गया था। वर्करों और हैल्परों के लिए आंगनवाड़ी केंद्र गत 8 दिसंबर से खोल दिए गए थे लेकिन बच्चों को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया था। अब विभाग सुबह 10 बजे से दोपहर 1 बजे तक सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों को फिर से खोलने जा रहा है, क्योंकि स्कूल शिक्षा विभाग एक फरवरी से प्री-प्राईमरी स्कूल खोलने का ऐलान कर चुका है।

उन्होंने बताया कि आंगनवाड़ी केन्द्रों में सभी लाभार्थियों को गर्म भोजन परोसा जाएगा। आंगनवाड़ी केंद्र 8 दिसंबर से खोले गए हैं तथा आंगनवाड़ी वर्करों और हैल्परों द्वारा सभी लाभार्थियों को घर-घर सूखा राशन पहुंचाया जा रहा था।

उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों में स्वास्थ्य प्रोटोकोलों और तय सुरक्षा मापदंडों की सख़्ती से पालना करने की हिदायत की।

ज्ञातव्य है कि उच्चतम न्यायालय की ओर से राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कंटेनमैंट ज़ोनों के बाहर स्थित केन्द्रों को फिर खोलने के बारे में 31 जनवरी या इससे पहले फ़ैसला लेने के लिए कहा गया है।