गोरखपुर । गोरखपुर के फर्टिलाइजर क्षेत्र में स्थित छह मंजिला अपार्टमेंट से गिरकर एक सिविल इंजीनियर की मौत हो गई। मूल रूप से झारखंड निवासी सिविल इंजीनियर सूरज कुमार के छत से गिरने की वजह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाई है। उनके हाथ में मोबाइल पाए जाने के कारण पहले यह अनुमान लगाया जा रहा था कि संभवतः मोबाइल पर बात करने के दौरान वह छत के किनारे पहंुचकर नीचे गिर गए हों। पुलिस हादसे के अलावा हत्या या आत्महत्या दोनों को ध्यान में रखते हुए जांच कर रही है। 
मिली जानकारी के अनुसार बुधवार सुबह करीब साढ़े सात बजे इंजीनियर सूरज अपने अपार्टमेंट की छठवीं मंजिल की छत से नीचे गिर गए। फर्टिलाइजर कारखाना झुंगिया गेट के पास स्थित इस अपार्टमेंट में एचयूआरएल कंपनी के कई अधिकारी रहते हैं। सूरज कुमार अपार्टमेंट की पहली मंजिल पर रहते थे। वह छठवीं मंजिल की छत पर क्यों गए और फिर नीचे कैसे गिर गए यह गुत्थी फिलहाल सुलझ नहीं पाई है। अपार्टमेंट के सीसी कैमरे में उनके छत से नीचे गिरने की फुटेज जरूर कैद हुई है। सूरज कुमार के कमरे के अलग-बगल रहने वाले लोगों ने छत से गिरने के तुरंत बाद उन्हें मेडिकल कालेज पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। सुबह साढ़े नौ बजे खाद कारखाना परिसर से घटना की सूचना चिलुआताल थाना पुलिस को दी गई। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने सूरज कुमार के शव को कब्जे में ले लिया। उनके परिवारीजनों को घटना की सूचना दी गई है।